गूगल ने दिखाया श्री राम का श्री लंका से अयोध्या आने का रास्ता।

जैसा की आप जानते हो कुछ दिनों बाद दिवाली है और लोग अभी से अपने घरों की सफाई में व्यस्त हो गये होंगे। और सब खुश भी होंगे क्योकि बाहर काम करने वाले लोग भी इस दिन अपने घर आते है। हमारे हिन्दू धर्म में श्री राम को सर्वोपरी माना जाता है, कहते है राम ने ही लोगो को जीना सिखाया था और हर मुसीबत में अपने आप को खड़ा रखने की प्रेरणा दी है। भगवान राम के बारे में जितना बताया जाए उतना कम है। पर इन दिनों फेसबुक , ट्वीटर और “whatsapp” पर एक ट्रेड शुरू हुआ है। जी हाँ इस ट्रेड में भगवान राम का श्री लंका से अयोध्या आने का रूट दिखाया गया है। और दावा किया गया है की श्री राम 21 दिनों में श्री लंका से अयोध्या पहुँच गये थे।

bhaskar

गूगल मैप में भी दिखाया गया – गूगल मैप ने एक ऐसा रूट दिखाया जिसे देखने के बाद लोग उसे शेयर करने लगे। गूगल पर किसी ने श्री लंका से अयोध्या तक का रूट सर्च किया, और उसके सामने गूगल ने पैदल चलकर जाने पर सिर्फ 21 दिन दिखाए। गूगल मैप के द्वारा इंसान 21 दिनों में श्री लंका से अयोध्या आ सकता है। यदि आपको पता नहीं है तो हम बताना चाहेंगे की श्री लंका से अयोध्या की दुरी 2586 किलोमीटर है। और इतनी दुरी को गूगल ने सिर्फ 21 दिनों में पूरा करने का एक रूट जारी किया है। जिसे गूगल मैप पर देखा गया है।

यदि गूगल के रूट के हिसाब से देखा जाए तो 2586 किमी दुरी तय करने के लिए 514 घंटे यानी 21 दिन लगते है। और इसे 21 दिनों में पूरा करने के लिए हमने 1 घंटे में 5 किलोमीटर की दुरी तय करनी पड़ती है और वो भी बिना रुके, इतना ही नहीं एक दिन यानि 24 घंटो में हमें 123 किमी चलना पड़ेगा वो भी बिना रुके तब जाकर हम 21 दिनों में अयोध्या पहुँच पाते है।

stlucas

कोई भी इंसान या कोई भी बिना रुके लगातार नहीं चल सकता है। और ये सब जानते है की इंसान को कहीं ना कहीं तो रुकना ही पड़ता है और कोई इंसान इतना चल भी नहीं सकता। पर लोगो ने सोशल मिडिया पर एक पोस्ट के साथ गूगल का रूट शेयर किया है और पूछा है की राम कैसे 21 दिनों में अयोध्या पहुंचे ? भगवान पर उठे सवालों के जबाव में कुछ लोगो ने कहा की भगवान राम पुष्पक विमान से अयोध्या आये थे। और लोगो ने उनका सपोर्ट बी किया है।

गूगल द्वारा दिखाए गये इस रूट पर 2015 से सवाल उठते आये है। और एक प्रश्नौत्री वेबसाइट में इस पेज को 41 हजार लोग देख चुके हैं।

loading...